गेहूं खरीद हेतु किसान पंजीकरण UP – ई क्रय प्रणाली 2021 | UP Gehu Kharid Registration


गेहूं खरीद के लिए किसान पंजीकरण @eproc.up.gov.in :- उत्तर प्रदेश सरकार ने रबी सीजन की फसलों की खरीद शुरू कर दी है, किसानों को रबी सीजन के गेहूं की खरीद के लिए पंजीकरण कराना होगा. खाद्य और नागरिक आपूर्ति विभाग उत्तर प्रदेश के किसानों से उनकी फसल खरीदता है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि किसानों को फसल का उचित मूल्य मिले। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग ने गेहूं की खरीद 15 अप्रैल 2021 से शुरू कर दी है। गेहूं की खरीद 15 जून तक की जाएगी। उत्तर प्रदेश सरकार ने गेहूं की ऑनलाइन खरीद की पूरी व्यवस्था की है। कोरोना के कारण देशव्यापी लॉकडाउन को देखते हुए गेहूं खरीद केंद्रों पर भी विशेष व्यवस्था की गई है.

गेहूं खरीद यूपी के लिए किसान पंजीकरण - ई-खरीद प्रणाली 2021 |  यूपी गेहु खरीद पंजीकरण
यूपी गेहु खरीद पंजीकरण

गेहूं खरीद के लिए किसान पंजीकरण

उत्तर प्रदेश के जो किसान अपनी फसल राज्य सरकार को बेचना चाहते हैं, उनकी फसल राज्य सरकार बेचेगी। खाद्य और नागरिक आपूर्ति विभाग खाद्य एवं रसद विभाग उत्तर प्रदेश ई-प्रोक्योरमेंट सिस्टम/ई-प्रोक्योरमेंट पोर्टल इस ऑनलाइन पोर्टल पर किसी भी किसान को अपनी फसल बेचने से पहले अपना पंजीकरण कराना होता है। जिसके बाद किसान को टोकन जारी किया जाता है। सभी किसान फसल बेचने के लिए गहन खरीद किसान पंजिकरण करना है अनिवार्य बिना रजिस्ट्रेशन कोई भी किसान अपना गेहूं सरकारी गोदाम में नहीं बेच सकता, यहां हम आपको बताएंगे कि गेहूं खरीद के लिए किसान पंजीकरण 2021 इसे कैसे करना है इसकी प्रक्रिया क्या है।

योजना का नाम गेहूं खरीद पंजीकरण 2021 यूपी
मंत्रालय खाद्य और नागरिक आपूर्ति विभाग
योजना शुरू की गया यूपी सरकार द्वारा
राज्य उत्तर प्रदेश
पोर्टल में खरीद की अंतिम तिथि 15 जून 2021
किसान पंजीकरण लिंक यहां क्लिक करें
आधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें
उप-गेहु-खरिद-किसान-पंजीकरण-सूचना

किसान पंजीकरण के लिए महत्वपूर्ण जानकारी

  1. किसान पंजीकरण के लिए आवेदन करने के लिए चरण 1 से चरण 6 का पालन करना अनिवार्य है।
  2. ऑनलाइन किसान पंजीकरण करने से पहले, कृपया “चरण 1 पंजीकरण प्रारूप” डाउनलोड और प्रिंट करें और मुद्रित प्रारूप की जांच के बाद आवश्यक जानकारी भरें।
  3. किसान पंजीकरण में फसल (गेहूं) के लिए उपयोग की जाने वाली सभी भूमि का विवरण देना अनिवार्य है।
  4. खतौनी/खाता क्रमांक, प्लाट/खसरा क्रमांक, भूमि का क्षेत्रफल (हेक्टेयर में) एवं फसल का क्षेत्रफल (गेहूं में) (हेक्टेयर में) भूमि विवरण के साथ भरना अनिवार्य है।
  5. आधार कार्ड, बैंक पास बुक और राजस्व रिकॉर्ड का सही विवरण दर्ज करें।
  6. “स्टेप 1. रजिस्ट्रेशन फॉर्म” भरने के बाद “स्टेप 2. रजिस्ट्रेशन फॉर्म” के विकल्प के साथ ऑनलाइन आवेदन जमा करें।
  7. ऑनलाइन आवेदन दाखिल होने पर “पंजीकरण संख्या” को नोट कर लें और “चरण 3 पंजीकरण ड्राफ्ट” से आवेदन पत्र का प्रारूप प्रिंट करें।
  8. पंजीकरण मसौदे में दर्ज सभी बिंदुओं को फिर से सत्यापित करें। मोबाइल नंबर देकर रजिस्ट्रेशन ड्राफ्ट को रीप्रिंट किया जा सकता है।
  9. आवेदन में दर्ज सभी बिंदुओं का निरीक्षण करने के बाद यदि किसी संशोधन की आवश्यकता हो तो “चरण 4 पंजीकरण संशोधन” से मोबाइल नंबर देकर आवेदन में संशोधन किया जा सकता है।
  10. यदि आवेदन का निरीक्षण करने के बाद कोई त्रुटि नहीं मिलती है, तो आवेदन को “स्टेप 5. पंजीकरण लॉक” के विकल्प के साथ लॉक करें। आवेदन लॉक होने के बाद इसमें किसी भी स्तर पर कोई संशोधन संभव नहीं होगा।
  11. आवेदन लॉक होने के बाद, आवेदन का अंतिम प्रिंट लें और इसे “स्टेप 6. पंजीकरण अंतिम प्रिंट” के विकल्प के साथ सुरक्षित रखें।
  12. जब तक आवेदन लॉक नहीं होगा, किसान पंजीकरण स्वीकार नहीं किया जाएगा।
  13. इस वर्ष ओटीपी आधारित पंजीकरण की व्यवस्था की गई है, जिसके लिए किसान बंधु पंजीकरण के समय अपने वर्तमान मोबाइल को एसएमएस द्वारा भेजे गए ओटीपी में दर्ज नहीं करना चाहिए। ) पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा करने के लिए।

किसान पंजीकरण के लिए महत्वपूर्ण निर्देश

  1. 100 क्विंटल से अधिक के लिए उप समाहर्ता से ऑनलाइन सत्यापन किया जाएगा। चकबंदी के गांवों में बेची जाने वाली मात्रा का शत-प्रतिशत सत्यापन किया जाएगा।
  2. किसान पंजीकरण में खतौनी में पंजीकृत अपना नाम सही से दर्ज करें, खतौनी (बाईं ओर) में उल्लिखित सभी नामों में अपना नाम चुनने का विकल्प उन्हें ऑनलाइन ड्रॉप डाउन में उपलब्ध होगा। नाम में अंतर होने की स्थिति में उप समाहर्ता द्वारा ऑनलाइन सत्यापन किया जाएगा।
  3. किसान अपना आधार नंबर, अपना नाम और लिंग जैसा कि आधार कार्ड में उल्लेख किया गया है, सही ढंग से दर्ज करें।
  4. किसान अपना बैंक खाता सीबीएस खाता खोलें और बैंक खाता और आईएफएससी कोड भरने में विशेष सावधानी बरतें।
  5. पीएफएमएस के माध्यम से शीघ्र भुगतान सुनिश्चित करने के लिए किसानों से आग्रह किया जाता है कि वे पंजीकरण के समय अपना एक भी बैंक खाता न दें।
  6. जिन किसानों ने खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में धान खरीद हेतु पंजीयन कराया है, उन्हें गेहूँ विक्रय हेतु पुनः पंजीयन कराने की आवश्यकता नहीं है, संशोधन के साथ अथवा बिना संशोधन के पुनः लॉक करना होगा।
  7. गेहूँ विक्रय के समय पंजीकरण प्रपत्र के साथ कम्प्यूटरीकृत खतौनी, फोटो पहचान पत्र, बैंक पासबुक के प्रथम पृष्ठ की छायाप्रति एवं आधार कार्ड साथ लायें।
  8. किसानों को गेहूं की बिक्री के समय अपना पंजीकरण फॉर्म लाना होगा। पंजीकरण फार्म में यह देखा जाना चाहिए कि यदि उनकी बिक्री की मात्रा 100 क्विंटल से अधिक है, यदि नाम का मेल नहीं है या चकबंदी गांव है तो उक्त जिलाधिकारी से सत्यापन किया गया है. साथ ही पंजीकरण में बैंक खाते को पीएफएमएस से सत्यापित किया गया है।
  9. गेहूं बिक्री के बाद केंद्र प्रभारी से पावती पत्र प्राप्त करना होगा।

यूपी किसान गहन खरीद पंजीकरण के महत्वपूर्ण बिंदु

अगर आप किसान हैं और अपनी फसल को सरकारी गोदाम में बेचना चाहते हैं तो गेहूं खरीद के लिए रजिस्ट्रेशन करने से पहले नीचे बताई गई बातों का ध्यान रखें।

  1. गेहूं खरीद के लिए किसान पंजीकरण ऑनलाइन माध्यम से ही करना होगा।
  2. जिन किसानों ने खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में धान खरीद के लिए पंजीकरण कराया है, उन्हें गेहूं की बिक्री के लिए फिर से पंजीकरण कराने की आवश्यकता नहीं है, उन्हें संशोधित कर पुनः लॉक करना होगा.
  3. गेहूं खरीद के लिए किसानों का रजिस्ट्रेशन छह चरणों में होगा।
  4. पहले चरण में आपको आवेदन ऑफलाइन प्रारूप का प्रिंट लेना होगा।
  5. फिर उसमें पूछी गई सभी जानकारी भरें और उस प्रारूप के साथ सभी आवश्यक दस्तावेज इसके साथ संलग्न करने होंगे।
  6. इसके बाद रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू होगी।

यूपी किसान गहन खरीद पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या हैं?

उत्तर प्रदेश के ई-प्रोक्योरमेंट सिस्टम पोर्टल के फूड एंड लॉजिस्टिक्स सेक्शन में गेहूं खरीद के लिए किसान के पंजीकरण के लिए आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता है।

  • किसान की किताब
  • किसान की भूमि का विवरण
  • खाता संख्या के साथ कम्प्यूटरीकृत खतौनी
  • आधार कार्ड / किसान फोटो के साथ पहचान पत्र
  • किसान बैंक पासबुक की फोटोकॉपी
  • किसान पता प्रमाण पत्र
  • किसान पासपोर्ट साइज फोटो
  • किसान का मोबाइल नंबर

गेहूं खरीद के लिए किसान का पंजीकरण कैसे करें

यदि आप गेहूं, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग उत्तर प्रदेश ई-उपार्जन प्रणाली की खरीद के लिए किसी किसान का पंजीकरण कराना चाहते हैं तो उसी तरह आवेदन करें जैसा हमने नीचे बताया है।

  • गेहूं खरीद पंजीकरण 2021 उत्तर प्रदेश चरण 1
    • उत्तर प्रदेश खाद्य एवं रसद विभाग की पहली वेबसाइट गेहूं खरीद के लिए पंजीकरण करने के लिए https://eproc.up.gov.in/ के लिए जाओ
    • अब इस पेज पर गेहूं खरीद के लिए किसान पंजीकरण का लिंक मिलेगा उस पर क्लिक करें।
गेहूँ-खरीद-के-किसान-पंजीकरण
  • अब किसान पंजीकरण के लिए महत्वपूर्ण जानकारी का एक पेज आएगा, उसे ध्यान से पढ़ें।
  • अब चरण 1. पंजीकरण प्रारूप पर क्लिक करें और फॉर्म डाउनलोड करें।
गेहूँ-खरीद-के-किसान-पंजीकरण
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म इस प्रकार है
गेहूँ-खरीद-के-किसान-पंजीकरण

किसान पंजीकरण चरण 2. गेहूं खरीद के लिए

  • दूसरे स्टेप में आपको स्टेप 2 पर क्लिक करना है। रजिस्ट्रेशन फॉर्म।
  • रजिस्ट्रेशन करने के लिए यहां किसान को अपना मोबाइल नंबर डालकर कैप्चा कोड भरकर आगे बढ़ें पर क्लिक करना होगा।
गेहूँ-खरीद-के-किसान-पंजीकरण
  • इसके बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा जिसमें आपको मांगी गई जानकारी भरनी है। पसंद ,
  1. नाम
  2. पिता का नाम
  3. माता का नाम
  4. लिंग
  5. आधार संख्या
  6. मोबाइल नंबर
  7. किसान की भूमि का विवरण
  8. किसान के निवास का पता
  9. किसान का बैंक विवरण
  • यह सारी जानकारी पूछी जाएगी, उसके बाद आपसे आपकी जमीन का विवरण मांगा जाएगा, कृपया जमीन का विवरण सही-सही भरें।
  • इसके बाद आपको अपने खाताधारक की जानकारी भी भरनी होगी।
  • जमीन का विवरण भरने के बाद आपसे बैंक की जानकारी मांगी जाएगी, बैंक की जानकारी सही से भरें।
  • अब कैप्चा कोड भरने के बाद रजिस्टर पर क्लिक करें।

यूपी किसान गहन खरीद पणजीकर्ण चरण 3

  • इसके बाद अब आपको स्टेप 3 पर क्लिक करना है। रजिस्ट्रेशन ड्राफ्ट।
  • अब आपको यहां अपने रजिस्ट्रेशन फॉर्म में भरी गई जानकारी दिखाई देगी।
  • अब फॉर्म में दी गई जानकारी की दोबारा जांच करनी होगी कि यहां दी गई जानकारी सही है या नहीं।
  • अगर सारी जानकारी सही है तो आगे बढ़ें ,
  • इसके बाद अब आपको Step 4 पर क्लिक करना है। Registration Modification
  • अब आपके सामने संशोधन के लिए आवेदन पत्र खुल जाएगा,
  • यदि यहां फार्म में या जिन किसानों ने खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में धान खरीद के लिए पंजीकरण कराया है, उन्हें संशोधन करवाना होगा।
  • उसके बाद एक बार सारी जानकारी को अच्छे से चेक कर लें।
  • संशोधित जानकारी को संशोधित करें।
  • अब यदि आप कोई जानकारी जोड़ना चाहते हैं या आप अपनी भूमि और भूमि की जानकारी जोड़ सकते हैं और यदि आप भूमि को जोड़ना या संशोधित नहीं करना चाहते हैं तो आप आगे बढ़ें पर क्लिक करें,

गेहूं खरीद के लिए किसान पंजीकरण चरण 5

  • इसके बाद अब आप स्टेप 5. रजिस्ट्रेशन लॉक के ऊपर क्लिक करें।
  • अब आपके द्वारा रजिस्ट्रेशन फॉर्म में भरी गई जानकारी आपके सामने आ जाएगी और जिसमें आपको अपना रजिस्ट्रेशन नंबर भी मिल जाएगा।
  • यहां आपको सभी सूचनाओं को सत्यापित करना होगा और एप्लिकेशन को सफलतापूर्वक लॉक करना होगा। लॉक करने के बाद आपका आवेदन ई-परचेजिंग सिस्टम ऑफिसर के पास भेज दिया जाता है।
  • एक बार लॉक हो जाने के बाद, आप अपने फॉर्म में कोई सुधार नहीं कर पाएंगे।

गहन खरीद किसान पंजिकरण चरण 6

  • एप्लीकेशन को लॉक करने के बाद आपको ऊपर दिए गए स्टेप 6 पर क्लिक करना है। रजिस्ट्रेशन फाइनल प्रिंट।
  • अब आपको इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म को डाउनलोड करना होगा।
  • सरकारी गोदाम में आपसे रजिस्ट्रेशन फॉर्म मांगा जाएगा, आपको ये सारे दस्तावेज वहां देने होंगे और उसकी एक कॉपी अपने पास रखनी होगी.

उत्तर प्रदेश गेहूं खरीद के लिए किसान पंजीकरण चरण 7

  • लास्ट स्टेप में आपको Step 7 के बाद Create Token पर क्लिक करना है। Lock पर क्लिक करना है।
  • अब आपको यहां अपना किसान पंजीकरण आईडी या पंजीकृत मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको कैप्चा कोड भरकर प्रोसीड पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपका टोकन जेनरेट हो जाएगा, आप टोकन का प्रिंट के साथ-साथ टोकन पर गोदाम की डिटेल भी ले लें, जहां आपको अपना गेहूं बेचने के लिए ले जाना है।

यूपी किसान गहन खाद योजना से संबंधित प्रश्न

उत्तर प्रदेश गेहूं खरीद के लिए किसान पंजीकरण क्या है?

गेहूं खरीद, खाद्य एवं रसद विभाग, उत्तर प्रदेश के लिए किसान पंजीकरण एक ई-खरीद प्रणाली / ई-खरीद प्रणाली है, जिसके माध्यम से किसान अपना ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं और अपनी फसल को सरकारी गोदामों में बेच सकते हैं।

क्या ऑनलाइन किसान पंजीकरण के लिए कोई शुल्क है?

नहीं, किसान पंजीकरण के लिए भुगतान करने का कोई शुल्क नहीं है, आप इसे मुफ्त में ऑनलाइन कर सकते हैं।

गेहूं खरीद के लिए कौन पंजीकरण कर सकता है?

गेहूं खरीद के लिए पंजीकरण उत्तर प्रदेश के सभी किसान अपना गेहूं घर बैठे बेचने के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं।

क्या मोबाइल से रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है?

हाँ, आप मोबाइल के द्वारा भी रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

यदि आप नहीं जानते हैं या अपना पंजीकरण नहीं करा पा रहे हैं तो क्या करें?

यदि आपके पास कंप्यूटर या मोबाइल नहीं है, आप पंजीकरण नहीं कर पा रहे हैं, तो आप अपने पास के किसी भी सीएससी केंद्र या कंप्यूटर की दुकान पर जाकर किसान को गेहूं खरीद के लिए पंजीकृत करवा सकते हैं, जिसके लिए ऑपरेटर आपसे कुछ शुल्क लेगा।

अगर मैं किराए के खेतों में खेती करता हूं तो क्या मैं पंजीकरण कर सकता हूं?

जी हां, हर किसान जो उत्तर प्रदेश से है और खेती करता है और जो अपनी फसल को सरकारी गोदाम में बेचना चाहता है, चाहे वह कैसे भी खेती करे, पंजीकरण करा सकता है।

वर्ष 2021 के लिए गेहूँ क्रय हेतु पोर्टल में कौन-सी तिथि निर्धारित की गई है?

उत्तर प्रदेश राज्य के किसान वर्ष 2021 की गेहूं की फसल को 15 जून 2021 तक पोर्टल में बेच सकते हैं।

Leave a Comment