मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन: Kanya Sumangala Yojana


यूपी कन्या सुमंगला योजना :- आज देश में लड़कियों की संख्या बहुत कम हो गई है। यूपी कन्या सुमंगला योजना की घोषणा की है। कन्या सुमंगला योजना ऑनलाइन आवेदन महिला विभाग बाल विकास का आधिकारिक वेबसाइट mksy.up.gov.in यह दौरा करके किया जा सकता है। जैसा कि आप सभी जानते हैं कि आज भी देश में कई ऐसे लोग हैं जो लड़कियों को बोझ समझते हैं और लड़कियों को अभिशाप के रूप में देखा जाता है और इसीलिए वे बेटियों को पेट में मारते हैं, जिसे भ्रूणहत्या के नाम से भी जाना जाता है। कहा जाता है कि या कई जगहों पर लड़कियों का बाल विवाह किया जाता है। योगी आदित्यनाथ जी अपने तीसरे बजट 2019 में कन्या सुमंगला योजना घोषित किया गया था।

उत्तर_प्रदेश_मुख्यमंत्री_कन्या_सुमंगला_योजना

कन्या सुमंगला योजना – यूपी कन्या सुमंगला योजना 2021

यूपी कन्या सुमंगला योजना 2021 के लिये 1200 करोड़ प्रावधान किया गया है, सुमंगला योजना सरकार के तहत बेटियों को उनके जन्म से लेकर स्नातक स्तर तक प्रदान करने के लिए 15000 रुपये धन मुहैया कराएगा। इस योजना को सफल बनाने के लिए सरकार की ओर से विभागों को दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं, जो उन्हें नियमानुसार मिलते रहेंगे, यह योजना सिर्फ यूपी की लड़कियों के लिए है, कन्या सुमंगला योजना यह सरकार के लिए काफी कामगार साबित होगा और इससे लोगों की सोच भी बदलेगी। और बेटियों को भी शिक्षित होने का मौका मिलेगा और उन्हें आगे बढ़ने का मौका मिलेगा। इससे 96 लाख परिवारों को लाभ होने की उम्मीद है। याद रखें यह योजना केवल उत्तर प्रदेश की बालिकाओं के लिए है। अगर आप इससे जुड़ी कोई भी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

योजना का नाम मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना (एमकेएसवाई)
उद्देश्य महिला सशक्तिकरण
योजना कब लागू की गई थी 2019 में
आवेदन का माध्यम ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट https://mksy.up.gov.in/

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के चरण:-

पहला दौर- प्रथम चरण में यदि बालिका का जन्म 1/4/2019 को या उसके बाद हुआ है तो सरकार बालिका को 2000 रुपये की राशि प्रदान करेगी।
दूसरे चरण- दूसरे चरण में उन लड़कियों को शामिल किया जाएगा जिनका जन्म 1/4/2018 से पहले नहीं हुआ है और सरकार उन लड़कियों को 1000 रुपये प्रदान करेगी, जिन्होंने पूर्ण टीकाकरण का एक वर्ष पूरा कर लिया है।
तीसरा चरण- तीसरे चरण में वे लड़कियां आती हैं जिनके पास न्याय है प्रथम श्रेणी में नामांकित बालिकाओं को 2000 रुपये की राशि दी जाएगी।
चौथा चरण- चौथे चरण में जिन लड़कियों ने अभी-अभी कक्षा 6 में दाखिला लिया है, उन्हें 2000 रुपये की राशि प्रदान की जाएगी।
पांचवां चरण- पांचवे चरण में वे छात्राएं आती हैं जिन्होंने शैक्षणिक सत्र के दौरान कक्षा 9 में वातावरण ग्रहण किया है, इसके लिए बालिकाओं को 3000 रुपये दिए जाएंगे।
छठा चरण- इसमें वे सभी लड़कियां आएंगी जिन्होंने 10वीं या 12वीं कक्षा पास करने के बाद किसी भी स्नातक डिग्री या किसी 2 वर्षीय डिप्लोमा में प्रवेश लिया है, उन्हें 5000 रुपये की राशि का लाभ दिया जाएगा।

Mksy.up.gov.in ऑनलाइन फॉर्म

मुख्यमंत्री सुमंगला योजना के लिए पात्रता

  • बालिका उत्तर प्रदेश की ही होनी चाहिए।
  • परिवार में अधिकतम 2 बेटियां होनी चाहिए।
  • अगर किसी महिला को पहली डिलीवरी से लड़की है तो दूसरी डिलीवरी के दौरान अगर जुड़वां बेटियां हैं तो ऐसी स्थिति में उन तीनों बेटियों को इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • परिवार की वार्षिक आय 3 लाख होनी चाहिए।
  • अगर किसी परिवार ने किसी लड़की को गोद लिया है और उसके बच्चे से लड़की है तो ऐसी स्थिति में परिवार की केवल 2 लड़कियों को ही योजना का लाभ मिलेगा।
  • बेटी के जन्म के 6 महीने के अंदर आवेदन करना होगा।
  • यदि आप जन्म के 6 महीने बाद आवेदन करते हैं तो आपको लाभ नहीं मिलेगा।
मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के लाभ
  • लड़कियों के प्रति नफरत रखने वालों की सोच में बदलाव
  • लड़कियों की शिक्षा का महत्व
  • लड़कियों को स्थानांतरित करें
  • एक परिवार की 2 लड़कियों को ही मिलेगा लाभ
  • परिवार में लड़कियों और लड़कों के बीच कोई भेदभाव नहीं
यूपी सुमंगला योजना के आवेदन के लिए दस्तावेज
  1. आधार कार्ड
  2. आय प्रमाण पत्र
  3. राशन पत्रिका
  4. बालिका जन्म प्रमाण पत्र
  5. बालिका विद्यालय प्रमाण पत्र
  6. माता-पिता के साथ फोटो
  7. बेटी की एक पासपोर्ट साइज फोटो
  8. बैंक खाता संख्या

मुख्यमंत्री सुमंगला योजना के उद्देश्य

  • भ्रूण हत्या बंद करो
  • लिंगानुपात बराबर करना
  • शिक्षा और स्वास्थ्य की स्थिति को मजबूत बनाना
  • बाल विवाह बंद करो
  • लड़की के जन्म के बारे में नकारात्मक विचार रखने वालों की सोच बदलने के लिए
  • लड़कियों की उज्ज्वल आत्मा की कामना करने के लिए
  • किसी भी परिवार में बेटे-बेटी में भेदभाव नहीं
उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला योजना ऑफलाइन आवेदन

आवेदक इसके लिए ऑफलाइन भी आवेदन कर सकते हैं, आप आवेदन पत्र खंड विकास अधिकारी, एसडीएम अधिकारी या जिला परिवीक्षा अधिकारी, उप मुख्य परिवीक्षा अधिकारी या कन्या सुमंगला पोर्टल विभागीय वेबसाइट पर मुफ्त में प्राप्त कर सकते हैं और फॉर्म भरने के बाद आप यह फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं। आप इसे अपने विकास खंड अधिकारी या जिला अधिकारी को जमा कर सकते हैं।

यूपी कन्या सुमंगला योजना में ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

अगर तुम यूपी कन्या सुमंगला योजना में ऑनलाइन आवेदन करें अगर आप ऐसा करना चाहते हैं या आपने अभी तक इस योजना के लिए आवेदन नहीं किया है तो नीचे कुछ स्टेप्स के जरिए हम आपको सुमंगला योजना के लिए आवेदन कैसे करें इसके बारे में बताने जा रहे हैं।

  • सबसे पहले आवेदक को महिला एवं बाल विकास विभाग को भेजा जाना चाहिए। एमकेएसवाई आधिकारिक वेबसाइट जारी रहेगा।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज खुलेगा, आपको यहां स्क्रीन पर ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया पर क्लिक करना है।
  • यदि आपने पहले ही पंजीकरण कर लिया है तो आप सीधे लॉगिन कर सकते हैं। लड़की_सुमंगला_योजना
  • अगर आपने रजिस्टर नहीं किया है तो आप I Agree पर जा सकते हैं और Continue पर क्लिक कर सकते हैं।
  • इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म आएगा और उसमें आपको अपनी सभी सही जानकारी भरनी होगी।
  • सभी सही जानकारी जैसे पिता का नाम, आवेदक का नाम, बच्चों की संख्या आदि भरें।
  • इसके बाद आपको Send OTP पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद अपना रजिस्ट्रेशन फॉर्म सबमिट करें। लड़की_सुमंगला_योजना

तो दोस्तों आप को इस तरह यूपी कन्या सुमंगला योजना (एमकेएसआई)) में ऑनलाइन आवेदन करूंगा। आपको आवेदन पत्र में पूछी गई सभी जानकारी सही-सही भरनी है और उसके बाद फॉर्म को सबमिट कर देना है।

कन्या सुमंगला योजना यूपी से जुड़े कुछ सवाल और जवाब

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगल योजना (एमकेएसआई)) क्या है?

मुख्यमंत्री कन्या योजना के तहत उत्तर प्रदेश की लड़कियों को जन्म से स्नातक के लिए 15,000 रुपये की राशि दी जाएगी, इसकी घोषणा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने तीसरे बजट में की थी।

यूपी कन्या सुमंगला योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए वेबसाइट क्या है?

यूपी कन्या सुमंगला योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://mksy.up.gov.in है, जिससे ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है।

परिवार में कितनी लड़कियों को यह लाभ मिलेगा?

इसका लाभ परिवार में केवल 2 बेटियों को ही मिलेगा। यदि पहली डिलीवरी के दौरान एक बेटी है और दूसरी डिलीवरी के दौरान दो जुड़वां लड़कियों का जन्म हुआ है, तो ऐसे में उस परिवार की तीनों लड़कियों को इस योजना का लाभ मिलेगा।

यूपी कन्या सुमंगल योजना क्यों शुरू की गई थी?

लड़कियों की शिक्षा पर जोर देने के लिए
भ्रूण हत्या रोकने के लिए
लड़कियों को सक्षम करने के लिए
समान लिंगानुपात बनाए रखने के लिए
बेटा-बेटी में भेदभाव नहीं होना चाहिए

इस योजना के आवेदकों की पात्रता क्या होनी चाहिए?

परिवार में अधिकतम 2 बच्चे
परिवार की वार्षिक आय 3 लाख होनी चाहिए
लड़कियां उत्तर प्रदेश की मूल निवासी होनी चाहिए
आवेदक के पास स्थायी प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, बिजली बिल, राशन कार्ड आदि होना चाहिए।

योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक को किन दस्तावेजों की आवश्यकता है?

राशन पत्रिका
आधार कार्ड
स्थायी प्रमाणपत्र
आय प्रमाण पत्र
माता-पिता के साथ बच्चे की फोटो
बच्चे की एक अलग तस्वीर
बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र
विद्यालय प्रमाणपत्र

क्या मैं इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकता हूँ?

हां, इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन भी किया जा सकता है और ऑफलाइन भी आवेदन किया जा सकता है।

क्या इस योजना में सरकार शादी के लिए कोई पैसा देगी?

नहीं, सरकार की ओर से ऐसी कोई घोषणा नहीं की गई है।

योजना का उद्देश्य क्या है?

इस योजना का उद्देश्य लड़कियों को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करना और लड़कियों के बीच भेदभाव को खत्म करना है।

तो जैसा कि हमने आपको अपने लेख के माध्यम से बताया है मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना इससे जुड़ी तमाम जानकारियां साझा की गई हैं। अगर आपको इस योजना से जुड़ी कोई अन्य जानकारी चाहिए या कोई समस्या है तो आप नीचे कमेंट सेक्शन में जाकर हमें मैसेज कर सकते हैं।

Leave a Comment